Home Loan Calculator: होम लोन EMI कैलकुलेट कैसे करें

पोस्ट मुख्य हैडलाइन 👉

Home Loan EMI Calculator

Home Loan EMI Calculators: एक नया घर खरीदने का सपना हर किसी का होता है, चाहे आप जॉब कर रहे हैं या फिर आप खुद का काम कर रहे हैं. अगर आप ही एक नया घर खरीदने की योजना बना रहे हैं और इसके लिए आप लोन लेना चाहते हैं तो ऐसे में होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर आपके काफी ज्यादा काम आ सकता है. इसकी सहायता से आप Loan Amount, Interest Rate, Tenure को एंटर करके आसानी से अपनी मासिक किस्त के बारे में पता कर सकते हैं. इसके अलावा घर में फ्लैट खरीदने के लिए भी आप होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर का इस्तेमाल कर सकते हैं.

भारत में रियल स्टेट की हाई कीमत को देखते हुए, एक नया घर खरीदना चुनौतीपूर्ण कार्य हो सकता है. इसके लिए आपके पास में कोई भी आय (Income) का साधन होना चाहिए. पिछले कुछ सालों में, होम लोन की संख्या में बहुत ज्यादा इजाफा हुआ है. वर्ष 2018 में होम लोन में 16% से अधिक की वृद्धि हुई है.

Home Loan Calculator Home Loan EMI Calculator

अगर आप 2023 में होम लोन लेना चाहते हैं तो ऐसे में सबसे पहले आपको अपनी मासिक किस्त के बारे में जानकारी होनी चाहिए. इसके बारे में आप होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग करके कर सकते हैं.

होम लोन ईएमआई (EMI) क्या है?

होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर एक ऐसा टूल है जिसकी सहायता से आप लोन राशि इंटरेस्ट रेट और समय अवधि को एंटर करके अपने मंथली इंस्टॉलमेंट या इएमआई निकाल सकते हैं स्थूल की सहायता से आप लोन लेने से पहले आसानी से इसका इस्तेमाल बैंकिंग वेबसाइट एनबीएफसी कंपनी की वेबसाइट फाइनेंस कंपनी की वेबसाइट चाहिए उसका इस्तेमाल कर सकते हैं. LOANPAYE.COM का आपको यहां पर होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर देखने को मिल जाएगा, जिसका उपयोग करके आप आसानी से अपनी मासिक किस्त निकाल सकते हैं.

होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर आपकी मदद कैसे कर सकता है?

होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर आपकी कई प्रकार से मदद कर सकता है.

1. अगर आप मैनुअली रूप से गणना करते हैं तो होम लोन की मासिक किस्त निकालने में गलती हो सकती है अगर आप होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग करते हैं किसी भी तरह की गलती होने की कोई गुंजाइश ही नहीं रहती.
2. किसी भी तरह के लोन लेने की ईएमआई गणना करने के लिए अलग-अलग प्रक्रिया होती है उदाहरण के लिए होम लोन और पर्सनल लोन दोनों अलग होते हैं.
3. इसका उपयोग होम लोन की किस्त निकालने के लिए कर सकते हैं जो कि बिल्कुल निशुल्क है.
4. आप अपने अनुसार लोन राशि इंटरेस्ट रेट और समय अवधि एंटर करके अपनी मासिक किस्त के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

The Formula To Determine Home Loan Emi Amount

सभी प्रकार के ऑनलाइन केलकुलेटर एक विशिष्ट होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग करते हैं जिसमें एक फार्मूले का इस्तेमाल किया जाता है यहां पर हमने इस कैलकुलेटर में इस फार्मूले का उपयोग किया है :

E = [P x R x (1+R) ^N] / [(1+R) ^N-1]

EEMI amount
PPrincipal amount
RRate of interest
NLoan Tenure

होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर ऑनलाइन आपको बिना किसी गलती किए स्टिक लोन राशि पता करने में मदद करता है आइए इसे मैं आपको एक उदाहरण से समझाता हूं.

मान लीजिए कोई व्यक्ति 1 करोड रुपए का लोन, 15 सालों के लिए 12% ब्याज दर पर लेता है तो इस सूत्र के अनुसार कैलकुलेशन होगी :

E = [1,00,00,000 x 12 x (1+12) ^ 15] / [)1+12) ^ 20-1]

मुख्य रूप से ईएमआई के दो घटक होते हैं एक प्रिंसिपल घटक और दूसरा इंटरेस्ट घटक कार्यकाल की शुरुआत में, ब्याज घटक अधिक होता है, और मूलधन अपेक्षाकृत कम होता है. हर गुजरते महीने के साथ समीकरण बदलता है, क्योंकि भुगतान किया जाने वाला कुल ब्याज तेजी से घटता है. इसलिए, भुगतान की गई प्रत्येक ईएमआई के साथ, ब्याज घटक घटता है जबकि मूलधन बढ़ता है.

How To Use Loanpaye Online Home Loan Emi Calculator?

Loanpaye एक ऑनलाइन फाइनैंशल वेबसाइट है जहां पर आपको पर्सनल लोन, एजुकेशन लोन, होम लोन, गोल्ड लोन, स्टूडेंट लोन, सिटी लोन, इंस्टेंट पर्सनल लोन, आरबीआई अप्रूव्ड लोन एप्लीकेशन इत्यादि अन्य के बारे में जानकारी दी जाती है. आप यहां पर की गए ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग करके आसानी से अपने होम लोन की किस्त की गणना कर सकते हैं.

गणना करने के लिए आप नीचे दिए गए स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस को अपना सकते हैं.

1. सबसे पहले इस वेबसाइट के होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर को ओपन करें.
2. अब जितना लोन लेना चाहते हैं उसे एंटर करें
3. जितने इंटरेस्ट पर लोन ले रहे हैं उसे एंटर करें
4. जितने समय के लिए लोन लेना चाहते हैं उसे भी एंटर करें.
5. इसके बाद Calculate पर क्लिक करें
6. अब आपके सामने मंथली इंस्टॉलमेंट, कुल पेमेंट और कुल इंटरेस्ट रेट के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

Advantages Of Using Groww Calculator

इस वेबसाइट पर उपलब्ध कैलकुलेटर का उपयोग करने के कई फायदे हैं.

1. इसका उपयोग करना आसान है। आपको बस कुछ आवश्यक विवरण डालने हैं, और कैलकुलेटर बाकी काम कर देगा.
2. यह सभी के लिए निःशुल्क है। आपको वेबसाइट पर पंजीकरण करने की भी आवश्यकता नहीं है.
3. आप इसे कितनी बार उपयोग कर सकते हैं इसकी कोई सीमा नहीं है। तो, आप अलग-अलग होम लोन राशियों के लिए ईएमआई की तुरंत जांच कर सकते हैं.

होम लोन की ईएमआई को जानना क्यों जरूरी है?

जब भी आप होम लोन की ईएमआई को जानते हैं तो इसके बाद ही आप पता लगा पाते हैं कि आपको प्रिंसिपल लोन अमाउंट पर कितना इंटरेस्ट देना होगा. EMI लोन चुकाने का एक माध्यम होता है और यह मूलधन और लोन के ब्याज को धीरे-धीरे मासिक आधार पर चुकाने का काम करती है. लोन लेने का कोई भी फैसला इस बात के बिना तय नहीं किया जा सकता है कि लोन की कुल अवधि कितनी होगी और इसकी ईएमआई कितनी बैठेगी. बैंकिंग हिस्ट्री क्रेडिट स्कोर आपके होम लोन की मंथली इंस्टॉलमेंट तय करने में बहुत सहायक होती है.

बैंक कैसे तय करते हैं कि कस्टमर को कितना लोन मिल सकता है?

बैंक होम लोन देने से पहले हमेशा यह जांच करता है कि आवेदक व्यक्ति की मासिक आमदनी कितनी है उसकी मासिक कमाई के हिसाब से बैंक लोन ऑफर करता है आप कितने समय में लोन को चुका सकते हैं उसी के हिसाब से बैंक लोन अमाउंट निर्धारित करता है यानी कि आप की मासिक कमाई खर्च और परिवार के सदस्यों की कमाई संपत्ति आय में स्थिरता जैसे कई कारको का मूल्यांकन करने के बाद ही बैंक होम लोन देने की सुविधा देता है.

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि कितनी सैलरी पर कितना होम लोन मिल सकता है तो ऐसे में आप हमारा यह आर्टिकल पढ़ सकते हैं.

इसे पढ़ें : ₹10000 से लेकर ₹75000 की सैलरी पर कितना होम लोन मिल सकता है?

होम लोन को अधिकतम कितने समय मैं जमा कर सकते हैं?

अगर आवेदक बैंक से होम लोन ले रहा है तो उसे घर की कीमत का 10 से 20% तक डाउन पेमेंट (Down payment) खुद से करना होता है. डाउन पेमेंट के बाद घर के मूल्य का 80 से 90 फीसदी तक ग्राहक होम लोन ले सकते है. इस मूल्य में रजिस्ट्रेशन और ट्रांसफर जैसे चार्ज भी शामिल होते हैं. बैंक से लिए गए होम लोन को जमा करने के लिए न्यूनतम 10 वर्ष और अधिकतम 30 वर्षों के लिए इस लोन को लिया जा सकता है.

होम लोन अमोरटाइजेशन शेड्यूल क्या है?

होम लोन अमोरटाइजेशन शेड्यूल (Home loan Amortization Schedule) एक टेबल है, जिसमें ग्राहकों की सुविधा के लिए लोन से जुड़ी सभी जानकारियां उपलब्ध होती है, जैसे- प्रिंसिपल लोन अमाउंट, लोन की राशि, इंटरेस्ट रेट, हर साल भुगतान किया गया पेमेंट, लोन की बकाया राशि, जिस दिन लोन लिया गया और जिस दिन लोन की किस्त जमा की गई यह सभी जानकारी यहां पर मौजूद होती है. इस टेबल में आवेदक की सभी जानकारी होती है.

क्या होम लोन के लिए को-एप्लिकेंट जरूरी है?

होम लोन के लिए को-एप्लिकेंट जरूरी होता है. घर के मालिक के परिवार का कोई भी व्यक्ति को-एप्लिकेंट हो सकता है. वहीं अगर मकान दो लोगों के नाम है, तो होम लोन में भी दोनों का नाम शामिल होना जरूरी है.

आपको होम लोन की रकम कैसे मिलेगी?

होम लोन की रकम या तो आप एक साथ ले सकते हैं या फिर आपको किस्तों में दी जाती है. अगर आपको यह किस्त में मिलती है, तो ज्यादा से ज्यादा तीन किस्तों में ही आपको पूरी रकम मिल जाएगी. रेडी टू मूव प्रॉपर्टी के मामले में लोन की रकम एकमुश्त मिल सकती है. हालांकि, अगर आपकी प्रॉपर्टी अभी अंडर-कंस्ट्रक्शन में है, तो लोन की रकम कंस्ट्रक्शन की प्रगति के हिसाब से ग्राहकों को दी जाती है. ऐसी स्थिति में ग्राहक बैंक से एग्रीमेंट कर सकते हैं कि कंस्ट्रक्शन के हिसाब से होम लोन की राशि बिल्डर को दी जाती है.

होम लोन के लिए किन दस्तावेजों की जरूरत है ?

होम लोन लेने के लिए निम्नलिखित डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ेगी अगर आपके पास में यह डॉक्यूमेंट मौजूद है तो फिर आप आसानी से होम लोन ले सकते हैं.

1. आधार कार्ड
2. पैन कार्ड
3. सैलरी स्लिप
4. आइटीआर स्लीप, फॉर्म 16
5. पिछले 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट
6. जमीन के कागजात
7. लोन एग्रीमेंट

नोट : होम लोन को लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी, शेयर के कागजात, एनएससी, म्यूचुअल फंड, बैंक डिपॉजिट या दूसरे निवेश के कागजात भी गिरवी के तौर पर ले सकते हैं.

होम लोन के लिए ब्याज दर के कितने प्रकार हैं ?

होम लोन के लिए ब्याज दर के लिए आप फिक्स्ड रेट और फ्लोटिंग रेट होम लोन (floating rate home loan) के बीच चुन सकते हैं. फिक्स्ड रेट होम लोन पर पूरे लोन की अवधि के लिए आपकी ईएमआई बदलती नहीं है. यह लाभकारी साबित हो सकता है क्योंकि आगे चलकर ब्याज दरों के बढ़ने का संभावना हो सकती है. वहीं फ्लोटिंग रेट में बेस रेट के साथ फ्लोटिंग रेट के आधार पर आपके होम लोन की ब्याज दर तय की जाती है. ऐसे में बेस रेट के उतार-चढ़ाव का असर ईएमआई पर पड़ता है। यह तब लाभकारी होता है जब भविष्य में ब्याज दरें नीचे आने की उम्मीद होती है.

होम लोन ईएमआई जांचने के आपको क्या फायदे होते हैं?

होम लोन ईएमआई जांचने के कई सारे फायदे हैं जिनका लाभ आप ले सकते हैं:

1. लोन लेने की क्षमता जांच सकते हैं
2. लोन का कुल अमाउंट और टेन्योर जांच सकते हैं
3. लोन रीपेमेंट की योजना बना सकते हैं
4. प्रीपेमेंट की योजना बना सकते हैं

होम लोन लेने के सबसे बड़े कारण क्या हैं?

होम लोन लेने के कई सारे कारण हो सकते हैं यहां पर हमने मुख्य कुछ कारणों के बारे में बताया हुआ है जिसे आप नीचे पढ़ सकते हैं:

1. होम लोन के जरिए रेडी टू मूव, अंडर कंस्ट्रक्शन और रीसेल प्रॉपर्टीज खरीद सकते हैं.
2. घर बना सकते हैं, जमीन खरीद सकते हैं और प्रॉपर्टी का कंस्ट्रक्शन करा सकते हैं.
3. घर की मरम्मत या रीनोवेशन करा सकते हैं.
4. घर का स्पेस बढ़ा सकते हैं.
5. नया घर खरीदने और पुराना घर बेचने के बीच के समय को पा सकते हैं.

समय पर ईएमआई का भुगतान करने के लिए क्या करना चाहिए ?

समय पर ईएमआई का भुगतान करने के लिए आपको बचत कर इमरजेंसी फंड के तौर पर अपने पास राशि रखनी चाहिए. आर्थिक संकट से जूझने में ये फंड आपकी मदद कर सकता है. अगर आपके जीवन में कुछ बुरा हो जाता है, जैसे अगर आपकी नौकरी छूट जाती है, या आप बीमार हो जाते हैं, तो ये फंड आपके काम आ सकता है. इससे आपकी लोन चुकाने की क्षमता प्रभावित नहीं होगी.

क्या ग्राहक समय से पहले होम लोन बंद कर सकते हैं ?

ग्राहक चाहें तो होम लोन की अवधि पूरी होने से पहले भी उसे बंद करवा सकते हैं. अगर ग्राहकों ने फ्लोटिंग इंटरेस्ट रेट का चयन किया है, तो उन्हें कोई चार्ज नहीं देना होगा. वहीं फिक्स्ड रेट में बैंक द्वारा ग्राहकों से चार्ज लिया जाएगा

होम लोन के लिए सिबिल स्कोर (CIBIL SCORE) की क्या भूमिका है ?

बैंक लोन देने से पहले आपका सिबिल स्कोर (CIBIL SCORE) चेक करते हैं. इससे आपकी वित्तीय क्षमता का अनुमान लगता है और आपको आसानी से लोन मिल जाता है. इसलिए आप लोन के लिए अप्लाई करने से पहले ही अपना सिबिल स्कोर ठीक कर लें. अगर ईएमआई चुकाने में देरी हो जाती है तो हमारा क्रेडिट स्कोर भी कम हो जाता है, जिसकी वजह से भविष्य में लोन मिलना मुश्किल हो सकता है

सारांश यहां पर हमने होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग कैसे कर सकते हैं ओम एम आई कैलकुलेटर का उपयोग करके मासिक किस्त कैसे निकाल सकते हैं इत्यादि के बारे में कंप्लीट जानकारी दी है. उम्मीद करता हूं यह जानकारी आपको पसंद आई होगी. होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर के बारे में अधिक जानने के लिए आप नीचे दी गई जानकारी पढ़ सकते हैं.

FAQs

होम लोन से आप क्या समझते हैं और ये क्यों जरूरी है?

होम लोन और हाउसिंग लोन ऐसा लोन होता है जिसे ग्राहक घर खरीदने के लिए किसी लोन देने वाली कंपनी बैंक एनबीएफसी कंपनी से लोन लेता है. आमतौर पर यह कोई बैंक या फाइनेंस कंपनी होती है. होम लोन लेते समय आपको कुछ बातों पर ध्यान देना चाहिए जैसे इंटरेस्ट रेट लोन राशि समय अवधि और क्रेडिट स्कोर अवश्य चेक करें.

लोन पाए का होम लोन कैलकुलेटर क्या है?

लोन पाए का होम लोन कैलकुलेटर एक ऑनलाइन टूल है, जियके माध्यम से ग्राहक ईएमआई को कैलकुलेट कर सकते हैं. यानी आप घर बैठे ही जान सकते हैं कि आपकी लोन की होम लोन ईएमआई कितनी होगी.

Loanpaye लोन कैलकुलेटर का इस्तेमाल कैसे करें ?

Loanpaye होम लोन कैलकुलेटर का इस्तेमाल करने के लिए आपको निम्नलिखित जानकारी डालनी होगी-
1. सबसे पहले आपको लोन की राशि डालनी होगी।
2. राशि के बाद आपको लोन की अवधि डालनी होगी।
3. अब आपको ब्याज दर डालनी होगी कि आपको कितने रेट पर लोन मिल रहा है।
4. यह जानकारी डालने के बाद आपको लोन पाए होम लोन कैलकुलेटर के माध्यम से लोन से जुड़ी जानकारी प्राप्त हो जाएगी, जैसे मासिक ईएमआई, लोन चुकाने की कुल राशि, आदि.

ईएमआई जानने से आपको घर खरीदने की प्लानिंग में क्या मदद मिलती है?

ईएमआई कैलकुलेशन आपको स्पष्ट रकम के बारे में बताता है कि हर महीने आपको कितनी रकम होम लोन चुकाने में देनी होगी जिससे आप एक सही फैसला ले सकते हैं कि लोन लेना आपको बजट में है या नहीं.

होम लोन की ईएमआई कब शुरू होती है?

लोन मिलने के तुरंत बाद आप की मासिक किस्त बनना शुरू हो जाती है जैसे ही आपको घर का डिस्बर्समेंट मिलता है वैसे-वैसे आपकी ईएमआई भी उसी अनुसार बढ़ती जाती है. रीसेल प्रॉपर्टी के मामले में डिस्बर्समेंट के महीने से ही होम लोन के पूरे अमाउंट पर ईएमआई लगना शरू हो जाती है.

Conclusion

होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर कैसे इस्तेमाल करें होम लोन ईएमआई कैलकुलेटर से मासिक किस्त कैसे कैलकुलेट करें इस आर्टिकल में आपको कंप्लीट जानकारी दी गई है. यहां पर दी गई जानकारी से आप बड़ी आसानी से अपने होम लोन की किस्त निकाल सकते हैं.

Other EMI Calculator

ONLINE HOUSE RENT ALLOWANCE CALCULATOR

EMI Calculator ईएमआई कैलकुलेटर

दोस्तों इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया आर्टिकल पढ़ने के बाद नीचे फीडबैक अवश्य दीजिए आपके एक फीडबैक से हमें बहुत अच्छा लगता है.

आपको यह पोस्ट केसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0

हम लोनपाए टीम है, जिसमे कार्य करने वाले फाइनेंस, बैंकिंग, शेयर मार्केट और ऋण की विशेष रूप से जानकारी रखते है, और B. Tech. M.A. Commerce, Financial तक की पढाई कर चुके है, हमारा मकसद सिर्फ इतना है की जो हमने पिछले 4 साल में सीखा है। बैंक, लोन और फाइनेंस के फील्ड में काम करते हुए, उसको सही ढंग से आपके साथ साझा किया जाये.

Leave a Comment

Copy Not Allowed