लोन क्या है? What is Loan, Secured Loan, Unsecured Loan in Hindi?

लोन 2022: वर्तमान समय में लोन मिलना काफी आसान हो चुका है, यदि बात की जाए आज से कुछ समय पहले की तो उस समय लोन लेने के लिए बैंकों की लाइनों में चक्कर काटने पड़ते थे और डॉक्यूमेंट को वेरीफाई करवाने में बहुत ज्यादा समय लगता था, लेकिन आजकल लोन लेना बहुत आसान हो चुका है.

यदि आपका सिबिल स्कोर अच्छा है तो ऐसे में आपके पास बैंकों के प्री अप्रूव्ड लोन ऑफर आने शुरू हो जाते हैं. इसके अलावा कुछ फाइनेंस कंपनियां तो आपके पास फोन कॉल करके अपने बेस्ट लोन ऑफर की जानकारी भी देती है.

अब जब लोन मिलना इतना आसान हो चुका है तो क्यों ना हम जान लेते हैं कि आखिर लोन क्या होता है, लोन कैसे बनता है, लोन कितने प्रकार का होता है, लोन कैसे लिया जाता है इत्यादि अन्य वगैरा-वगैरा.

यदि आप लोन ले रहे हैं तो ऐसे में यह आर्टिकल आपके लिए काफी हेल्पफुल होने वाला है क्योंकि बहुत सारे लोगों को यह पता नहीं होता कि जो लोन वह ले रहे हैं वह किस कैटेगरी में आता है और लोन मिलने से लेकर बैंक खाते में आने तक क्या प्रोसेस लगता है. तो चलिए दोस्तों बिना वक्त गवाए जान लेते हैं कि आखिर लोन क्या होता है.

Contents

लोन क्या है? / What is Loan

Loan kya hai what is loan explained in hindi

लोन एक ऐसी राशि होती है जो किसी व्यक्ति, संस्था के द्वारा एक निश्चित समय, ब्याज दर के साथ उधार दी जाती है, इस धन राशि को ही लोन कहते हैं. आसान शब्दों में कहें तो लोन, किसी व्यक्ति, संस्था के पास में वह पैसे हैं जो वह किसी अन्य व्यक्ति, संस्था को उसकी जरुरत के समय में, वह धनराशि प्रदान करता है और इसके पश्चात वह व्यक्ति, संस्था इसका भुक्तान करती है.

इस प्रोसेस में बैंक, फाइनेंस कंपनी और नॉन बैंकिंग संस्थाएं सबसे अहम भूमिका निभाती है. ये आम लोगों को भी सुविधा उपलब्ध करवाती है.

वर्तमान समय में कुछ बैंक इंस्टेंट लोन देने की सुविधा देते हैं जिसे आप घर बैठे आवेदन कर सकते हैं इसके अलावा कुछ बैंक तो कस्टमर सपोर्ट के माध्यम से भी लोन आवेदन करने की सुविधा भी देते हैं.

Loan kya hai loan types Secured Loan, Unsecured Loan

लोन कैसे बनता है?

लोन 3 कारको के साथ मिलता है. ये कारक लोन राशि, इंटरेस्ट रेट, समय अवधि है. इन तीनों कार्य को को मिलाकर ही लोन बनता है. आइए इन तीनों के बारे में जान लेते हैं :

Loan Amount: लोन राशि किसी बैंकिंग संस्था द्वारा दी जाने वाली बकाया राशि होती है जिसे बैंक लोन लेने वाले व्यक्ति के खाते में क्रेडिट करता है यह लोन राशि एक निश्चित समय के लिए उपलब्ध करवाई जाती है.

आजकल कुछ फाइनेंस कंपनी और लोन एप्लीकेशन के माध्यम से ₹3000 से लेकर ₹500000 तक का लोन आसानी से लिया जा सकता है.

Interst Rate: लोन लेने पर किसी बैंक या फाइनेंस संस्था के द्वारा उस राशि पर लिए जाने वाले ब्याज को ही इंटरेस्ट रेट कहते हैं. वर्तमान समय में कुछ बैंक 12% से लेकर 42% वार्षिक ब्याज दर पर लोन उपलब्ध करवा देते हैं.

Tenure: लोन राशि को जितने समय के लिए लिया जाता है उसे Tenure कहते हैं. आमतौर पर आवेदक 3 महीने से लेकर 24 महीनों की अवधि तक लोन राशि ले सकते हैं

लोन कितने प्रकार के होते हैं

लोन दो प्रकार का होता है
Secured Loan
Unsecured loan

सिक्योर्ड लोन क्या है / What Is A Secured Loan

secured loan kyaa hota hai

Secured Loan एक ऐसा लोन होता है जिसके लिए आवेदक को ऋणदाता कंपनी के पास उधार लिए जा रहे धन की सुरक्षा के रूप में एक निर्धारण संपत्ति प्रदान करने की आवश्यकता होती है.

  • आसान शब्दों में कहे तो जहां पर आपको कोई वस्तु को सिक्योरिटी के तौर पर गिरवी रखना पड़ता है, उसे सिक्योर्ड लोन कहते हैं.
  • जैसे आपके पास एक घर या कार है तो ऐसे में आप इन वित्तीय संपत्तियों का उपयोग ऋण दाता कंपनी के पास सिक्योरिटी के तौर पर रखकर आसानी से लोन ले सकते हैं और उस लोन को जमा करके आप गिरवी रखी गई चीजों को छुड़वा सकते हैं.
  • एक सुरक्षित ऋण के लिए आपको ऋणदाता को एक परिसंपत्ति प्रदान करने की आवश्यकता होती है जिसका उपयोग ऋण के लिए संपार्श्विक के रूप में किया जाएगा
  • सिक्योर्ड लोन पर ब्याज दर कम होती है.
  • सुरक्षित लोन को आसानी से बैंक से प्राप्त किया जा सकता है.
  • सुरक्षित लोन को जमा करने के लिए अधिकतम समय दिया जाता है.
  • सुरक्षित ऋण केवल इस तथ्य के लिए प्राप्त करना आसान होता है कि वे ऋणदाता के लिए कम जोखिम वाले होते हैं.

अनसिक्योर्ड लोन क्या है / What Is A Unsecured Loan

unsecured loan kyaa hota hai padhiye

Unsecured Loan एक ऐसा लोन है जिसमें किसी भी प्रकार के collateral की आवश्यकता नहीं होती है. इस लोन को लेने में ऋणदाता उधारकर्ता की जरूरत के आधार पर लोन की मंजूरी देता है. असुरक्षित ऋण के उदाहरणों में ऋण, छात्र ऋण और क्रेडिट कार्ड शामिल हैं।

  • आसान शब्दों में कहे तो जहां पर आपको कोई वस्तु को सिक्योरिटी के तौर पर गिरवी ना रखना पड़े, उसे अनसिक्योर्ड लोन कहते हैं.
  • अनसिक्योर्ड लोन के उदाहरण में पर्सनल लोन एजुकेशन लोन और क्रेडिट कार्ड इत्यादि अन्य शामिल है. इस लोन को लेने के लिए किसी भी चीज को गिरवी रखने की जरुरत नहीं होती है, इसमें बैंक, NBFC संस्थाएं (Non Banking Financial Company) सबसे प्रमुख भूमिका निभाती है जो आवेदक की क्रेडिट हिस्ट्री के आधार पर लोन प्रदान कर देती है.
  • असुरक्षित लोन प्राप्त करने के लिए collateral के रूप में संपत्ति प्रदान करने की आवश्यकता नहीं होती है.
  • असुरक्षित लोन की वार्षिक ब्याज दर बहुत ज्यादा होती है
  • असुरक्षित लोन प्राप्त करना कठिन होता है, क्योंकि बैंकों के द्वारा यह लोन देना जोखिम भरा होता है.
  • असुरक्षित लोन को जमा करने के लिए आपको 3 महीने से लेकर 24 महीनों की एक सीमित अवधि दी जाती है.
  • असुरक्षित ऋण प्राप्त करना तुलनात्मक रूप से कठिन होता है.

Difference Between Secured Loan And Unsecured loan

what is secured loan or what is a unsecured loan info in hindi

कौन सा लोन किस कैटेगरी में आता है?

लोन किस कैटेगरी में आता है यह जानने के लिए आपको सिक्योर्ड लोन और अनसिक्योर्ड लोन के बारे में पता होना चाहिए तभी आप यह अनुमान लगा सकते हैं कि कौन सा लोन किस कैटेगरी में आएगा.

यहां पर हमने उन सभी लोन की कैटेगरी बताई है जो सिक्योर्ड लोन में आता है और जो अनसिक्योर्ड लोन में आता है. आइए इसके बारे में जान लेते हैं:

Secured Loan types

secured loan kitane parkar ka hota hai hindi me padhiye

Home loan
Loan against property
Loan against insurance policy
Gold loan
Loan against mutual fund share
Loan against fixed deposit
Car loan
Business Loan
Mortgage loan
Secured credit cards
Bad credit loans

Home Loan

होम लोन सिक्योर्ड लोन का सबसे बेहतरीन उदाहरण है जो आपको अपनी पसंद का घर खरीदने या बनाने के लिए धन देता है। भारत में उपलब्ध होम लोन के प्रकार निम्नलिखित हैं:

  1. Land Purchase Loan: अपने नए घर के लिए जमीन खरीदने के लिए यूज कर सकते हैं.
  2. Home Construction Loan: एक नया घर बनाने में सहायता करता है.
  3. Home Loan Balance Transfer: अपने मौजूदा होम लोन के बैलेंस को कम ब्याज दर पर ट्रांसफर कर सकते है.
  4. Top up Loan: मौजूदा घर के नवीनीकरण के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है या आपके नए घर के लिए नवीनतम आंतरिक सज्जा के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है

ध्यान दें: एक नई प्रॉपर्टी घर खरीदते समय फाइनेंस कंपनी को संपत्ति के मूल्य का कम से कम 10 से 20 परसेंट का डाउन पेमेंट करना होगा इसके अलावा अन्य राशि को बैन किया फाइनेंस कंपनी भर देती है बाद में आप उस लोन राशि को हर महीने किस्तों में भर सकते हैं.

Loan Against Property

अपनी प्रॉपर्टी के खिलाफ लोन लेना एक सुरक्षित लोन माना जाता है. इस लोन को आप किसी भी आवासीय, वाणिज्यिक या औद्योगिक संपत्ति को गिरवी रख सकते हैं.

लोन की राशि संपत्ति के हिसाब से एक निश्चित प्रतिशत के हिसाब से बराबर होती है और सभी उधारदाताओं के द्वारा अलग-अलग मिल सकती है

वर्तमान समय में कुछ फाइनेंस कंपनियां प्रॉपर्टी के अगेंस्ट लोन लेने पर जमीन के मूल्य के 50-60% के बराबर लोन राशि दे सकते हैं, इसके अलावा कुछ 80% के करीब राशि प्रोवाइड कर देते हैं.

प्रॉपर्टी के अगेंस्ट लोन लेने पर अपनी संपत्ति के निष्क्रिय मूल्य को अनलॉक करने में मदद कर सकते हैं और इसका उपयोग बच्चों की उच्च शिक्षा या विवाह जैसे व्यक्तिगत जीवन के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए किया जा सकता है.

इसके अलावा बिजनेस को शुरू करने, बिजनेस को बढ़ाने, अनुसंधान एवं विकास और उत्पाद विकास के लिए संपत्ति पर इस लोन का इस्तेमाल किया जा सकता है.

Loan Against Insurance Policy

वर्तमान समय में सिक्योर्ड लोन के अंतर्गत आप अपनी बीमा पॉलिसी पर भी लोन ले सकते हैं. हालांकि, सभी बीमा पॉलिसियां इसके लिए योग्य नहीं हैं. केवल पॉलिसी, जैसे एंडोमेंट और मनी-बैक पॉलिसी, जिनकी परिपक्वता मूल्य है, इनका इस्तेमाल लोन प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है.

नोट: आप टर्म इंश्योरेंस प्लान पर लोन नहीं ले सकते, क्योंकि इसमें कोई मैच्योरिटी बेनिफिट नहीं होता है. इसके अलावा, यूनिट-लिंक्ड योजनाओं पर लोन नहीं लिया जा सकता क्योंकि रिटर्न निश्चित नहीं होता है और यह बाजार के प्रदर्शन पर निर्भर करता है.

यह ध्यान रखना आवश्यक है कि आप एंडोमेंट और मनी बैक पॉलिसियों के एवज में लोन का विकल्प तभी चुन सकते हैं, जब उन्होंने सरेंडर वैल्यू हासिल कर ली हो.

वर्तमान समय में ये पॉलिसियां 3 साल तक लगातार नियमित प्रीमियम का भुगतान करने के बाद ही सरेंडर वैल्यू हासिल करती हैं.

Gold loan

गोल्ड लोन सिक्योर्ड लोन का एक दूसरा बेहतरीन उदाहरण है जहां पर आप अपने सोने के आभूषणों को बैंक के पास गिरवी रखकर आसानी से उन आभूषणों की कीमत के 80 से 90% तक लोन प्राप्त कर सकते हैं.

सोना एक लंबी अवधि से सबसे पसंदीदा संपत्ति रहा है. केपीएमजी की एक रिपोर्ट के अनुसार, वित्तीय संस्थानों द्वारा दी जाने वाली लचीली ब्याज दरों के कारण, संगठित भारतीय स्वर्ण ऋण उद्योग के 2019-20 तक 3,101 बिलियन रुपये तक पहुंच प्राप्त की है.

गोल्ड लोन के लिए आपको सोने के आभूषण या सिक्के गिरवी रखने पड़ते हैं. लोन अप्रूवल मिलने पर गिरवी रखे गए आभूषणों पर सोने की वर्तमान कीमत के हिसाब से एक निश्चित प्रतिशत लोन राशि बैंक में प्रदान कर दी जाती है.

गोल्ड लोन का इस्तेमाल आमतौर पर किसी मजबूरी के तहत तुरंत पैसे लेने के लिए किया जा सकता है गोल्ड लोन अन्य लोन जैसे होम लोन और प्रॉपर्टी लोन की तुलना में जल्दी मिल जाता है.

Loan Against Mutual Fund And Shares

लंबी अवधि के लिए धन को इकट्ठा करने के लिए म्यूचुअल फंड एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है, म्यूचुअल फंड को लोन के लिए collateral के रूप में रखा जा सकता है.

आप लोन प्राप्त करने के लिए वित्तीय संस्थान को इक्विटी या हाइब्रिड फंड गिरवी रख सकते हैं. ऐसा करने के लिए, आपको अपने फाइनेंसर को लिखना होगा और एक Loan Agreement सबमिट करना होगा.

इसके बाद आपका फाइनेंसर म्यूचुअल फंड रजिस्ट्रार को लिखेगा और गिरवी रखी जाने वाली इकाइयों की निश्चित संख्या पर एक लीगल नोटिस जारी किया जाता है.आमतौर पर, आप लोन के रूप में गिरवी रखी गई इकाइयों के मूल्य का 60-70% प्राप्त कर सकते हैं.

इसके साथ ही, शेयरों के साथ, वित्तीय संस्थान शेयरों के खिलाफ एक lien बनाते हैं जिसके खिलाफ लोन लिया जा सकता है और लोन का मूल्य शेयरों के मूल्य के प्रतिशत के बराबर होता है.

Loan Against Fixed Deposits

फिक्स डिपाजिट (FD) जमा न केवल सुनिश्चित रिटर्न प्रदान करता है बल्कि आपको लोन की आवश्यकता होने पर भी काम आ सकता है. लोन की राशि FD के मूल्य के 70-90% के बीच अलग हो सकती है और सभी उधारदाताओं के आधार पर भिन्न हो सकती है.

हालांकि, यह ध्यान रखना आवश्यक है कि लोन की अवधि FD की अवधि से अधिक नहीं हो सकती है.

Car loan

वर्तमान समय में कार लोन की बढ़ोतरी बढ़ती जा रही है क्योंकि इस लोन को बैंक और फाइनेंस कंपनियां आसानी से प्रदान कर देते हैं आजकल सही कार फाइनेंस कार लोन का विकल्प को चुनना बहुत चुनौतीपूर्ण होता है

भारत में कार लोन दो प्रकार का होता है

Secured Car Loan: सिक्योर्ड कार लोन वह है जिसमें कार लोन लेते समय उधारकर्ता को वित्तीय संस्थान के साथ एक collateral या सुरक्षा रखनी होती है.

अधिकांश कार लोन या तो उस वाहन द्वारा सुरक्षित किए जाते हैं जिसे आप खरीदना चाहते हैं, या किसी भी रूप की वित्तीय जमा राशि के साथ जो ऋणदाता के लिए जोखिम को कम करेगा.

सुरक्षित कार लोन असुरक्षित कार लोन की तुलना में बेहतर शर्तें और कम ब्याज दर प्रदान किए जाते हैं.

Unsecured Car Loan: अनसिक्योर्ड कार लोन वह है जिसमें कार लोन लेते समय उधारकर्ता को वित्तीय संस्थान के साथ कोई भी सुरक्षा नहीं रखनी होती है.

असुरक्षित कार लोन सुरक्षित कार लोन की तुलना में कई शर्तों और ज्यादा ब्याज दर के साथ दिए जाते हैं इसलिए जब भी आप कार लोन का चयन करें तो आप यह है जरूर देखें कि आपको कौन सा लोन दिया जा रहा है

Secured Car Loan Interest Rate

एक सुरक्षित लोन में आमतौर पर एक छोटी अवधि होती है और लोगों को जमा करने के लिए ज्यादा अवधि उपलब्ध करवाई जाती है. हालांकि, एक सुरक्षित लोन ऋणदाता को कम जोखिम सुनिश्चित करता है और इसलिए, लागू ब्याज दर एक असुरक्षित की तुलना में कम होती है.

Business Loan

बिजनेस लोन भी एक सुरक्षित लोन होता है जिसे आप अपने बिजनेस को बढ़ाने या फिर बिजनेस की शुरुआत के लिए लिया जा सकता है इस लोन के लिए कई सारे बैंक ऑफर करते हैं

वर्तमान समय में बिजनेस लोन के लिए भारतीय स्टेट बैंक नए-नए ऑफर लेकर आता रहता है इसके अलावा भारत सरकार द्वारा भी कई सारी योजनाएं चलाकर रखी गई है जिनसे आप आसानी से अपने बिजनेस के लिए लोन ले सकते हैं

अगर आपको किसी इमरजेंसी में पैसों की सख्त जरूरत पड़ जाए तो ऐसे में आप अपने 3 से 4 साल पुराने बिजनेस पर लोनी ले सकते हैं.

Mortgage Loan

एक मोरेटज लोन फाइनेंस कंपनी और आपके बीच एग्रीमेंट होता है जो फाइनेंस कंपनी को आपकी संपत्ति लेने का अधिकार देता है.

यदि आप अपने द्वारा उधार लिए गए लोन और ब्याज को चुकाने में असक्षम रहते है.

इस स्थिति में मोरेटज लोन का उपयोग लोन देने वाली कंपनी आपके स्वामित्व वाले घर के मूल्य के मुकाबले बोली लगा सकती है.

Secured Credit Cards

एक सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड एक प्रकार का क्रेडिट कार्ड है जो कार्डधारक से नकद जमा द्वारा समर्थित होता है. यह जमा खाते पर collateral के रूप में कार्य करता है, यदि कार्डधारक भुगतान नहीं कर सकता है तो कार्ड जारीकर्ता को सुरक्षा प्रदान करता है.

एक सुरक्षित क्रेडिट कार्ड के साथ, आपके द्वारा जमा की गई राशि आपके क्रेडिट कार्ड के लिए आपकी क्रेडिट सीमा बन जाएगी.

Bad Credit Loans

खराब क्रेडिट के लिए एक पर्सनल लोन एक मानक के समान है, हालांकि यह लोन 580 से कम क्रेडिट स्कोर वाले उधारकर्ताओं के लिए विकल्प प्रदान करता है.

इनमें से सबसे लोकप्रिय ऋण असुरक्षित हैं, जिन्हें किसी collateral की आवश्यकता नहीं होती है.

वर्तमान समय में कुछ ऋणदाता सुरक्षित लोन की पेशकश कर देते हैं.

Unsecured loan types

unsecure loan kitane parkar ke hote hai janiye hindi me

Personal loan
Short term business Loan
Flexi loan
Education loan
Vehicle loan

Personal Loan

पर्सनल लोन एक ऐसा लोन होता है जिसे आप अपनी किसी भी जरूरत के लिए ले सकते हैं पर्सनल लोन को लेना आसान होता है क्योंकि इस लोन को आप बिना किसी सिक्योरिटी और बिना कुछ गिरवी रखे ले सकते हैं

इस लोन को लेने पर बैंक के द्वारा किसी भी तरह की पाबंदी नहीं होती इसे आप अपने हिसाब से इस्तेमाल में ले सकते हैं वर्तमान समय में कई सारे प्लेटफार्म इस लोन को आसानी से प्रदान कर देते हैं.

पर्सनल लोन एक अनसिक्योर्ड लोन होता है जिसे एक निश्चित समय और ब्याज दर पर लिया जा सकता है.

Short Term Business Loan

शॉर्ट टर्म बिजनेस लोन एक कम समय अवधि का लोन होता है जिसे इंसटेंट लिया जा सकता है इस लोन को कुछ घंटों या फिर एक या 2 दिन के समय में मंजूरी मिल जाती है इस लोन का उपयोग आपके बिज़नस के लिए तुरंत नकद पैसे की जरूरत पड़ने पर लिया जा सकता है लेकिन यहां पर पर्सनल लोन की तुलना में ज्यादा इंटरेस्ट रेट लिया जाता है.

Flexi Loan

फ्लेक्सी लोन के नाम से ही स्पष्ट पता चलता है कि इस लोन को लचीली ब्याज दरों के साथ लिया जा सकता है वर्तमान समय में फ्लेक्सी लोन के लिए कई सारे प्लेटफार्म प्री-अप्रूव्ड लोन ऑफर करते हैं.

फ्लेक्सी लोन को आप अपनी स्वीकृत सीमा से और जब आपको लोन की आवश्यक हो, धन प्राप्त कर सकते हैं और केवल उपयोग की गई राशि पर ब्याज का भुगतान कर सकते हैं.

आप अपनी लोन सीमा, कितनी भी बार और अतिरिक्त नकदी होने पर, बिना किसी अतिरिक्त लागत के रीपेमेंट कर सकते हैं.

इस तरह का लोन आपको कठोर टर्म लोन के विपरीत अपने वित्त पर पूर्ण नियंत्रण रखने की स्वतंत्रता देता है और आपको आपकी EMI पर 45% तक की बचत प्रदान करता है.

यहां, आपके पास EMI के रूप में केवल ब्याज का भुगतान करने का विकल्प है, जिसमें मूलधन अवधि के अंत में लोन राशि देने होती है.

Education Loan

एजुकेशन लोन वह होता है जिसे आप अधिकारियों के लिए ले सकते हैं. वर्तमान समय में प्रतिष्ठित संस्थानों से उच्च शिक्षा की प्रतिभा को देखते हुए देश में शिक्षा ऋण की मांग दिनों दिन बढ़ती जा रही है.

यह लोन पाठ्यक्रम के मूल शुल्क के साथ-साथ आवास, परीक्षा शुल्क आदि जैसे संबद्ध खर्चों को भी कवर करता है.

इस लोन में, छात्र मुख्य उधारकर्ता होता है जबकि माता-पिता, भाई-बहन और जीवनसाथी सह-आवेदक होते हैं.

इस लोन को प्रबंधन, इंजीनियरिंग और चिकित्सा के क्षेत्र में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम के साथ-साथ पूर्णकालिक, अंशकालिक या व्यावसायिक पाठ्यक्रम के लिए शिक्षा ऋण लिया जा सकता है.

पाठ्यक्रम पूरा होने के बाद छात्र को लोन की राशि को चुकाना होगा.

ध्यान दे: एजुकेशन लोन में छात्र के पास पाठ्यक्रम पूरा करने के 12 महीने बाद तक या काम शुरू करने के 6 महीने बाद तक, जो भी पहले हो, ईएमआई का भुगतान नहीं करने का विकल्प होता है.

TERM LOAN

टर्म लोन एक ऐसा लोन होता है जिसे बिजनेस को शुरू करने के लिए लिया जा सकता है और इस लोन को एक निश्चित कार्यकाल के अंतराल जमा करना होता है इस लोन को लेने पर मासिक, वार्षिक शेड्यूल में रीपेमेंट करना होता है

इसके अलावा यहां पर एक फिक्स इंटरेस्ट रेट होता है और यहां पर लोन लेने से पहले Maturity Date भी सेट की जाती है यह लोन एक किस्म से Secured Loan जैसा होता है

लोगों की जरूरत के अनुसार टर्म लोन को तीन भागों में बांटा गया है

Term Loans की वर्गीकरण
Long Term (<3 Years)

Long Term लोन एक लंबे समय अवधि के लिए लिया जा सकता है और इस लोन को जमा करने के लिए 3 साल से अधिक का समय दिया जाता है जिसे आप मासिक या वार्षिक किस्त में जमा कर सकते हैं

Medium Term (1-3 Years)

यह लोन मीडियम अवधि के लिए लिया जा सकता है यहां पर लोन को जमा करने के लिए 1 साल से लेकर 3 साल का समय मिलता है और इस लोन को भी आप मासिक या वार्षिक किस्त में जमा कर सकते हैं.

Short Term (1 Year)

टर्म लोन का तीसरा पार्ट आता है शॉर्ट टर्म लोन इस लोन को कम समय अवधि के लिए लिया जा सकता है. इस लोन का इस्तेमाल अचानक से आई कोई भी समस्या या फिर किसी मेडिकल इमरजेंसी में तुरंत ले सकते हैं.

इस लोन को जमा करने के लिए 12 महीनों का समय दिया जाता है. इसके अलावा इस लोन को हर महीने मासिक किस्तों में भर सकते हैं.

Vehicle Loan

वाहन ऋण दो या चार पहिया वाहन ऋण के रूप में दिया जाता है जो आपको अपने सपनों का वाहन खरीदने में मदद करता है। वाहन ऋण या तो नए वाहन की खरीद पर या इस्तेमाल किए गए वाहन पर दिए जाते हैं।

आपका क्रेडिट स्कोर, ऋण का आय से अनुपात, ऋण अवधि, आदि, ऋण राशि निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. बजाज फिनसर्व के साथ आप उपरोक्त सभी लोन पर प्री-अप्रूव्ड ऑफर प्राप्त कर सकते हैं.

Online Loan

एक ऐसा ऋण है जो इंटरनेट-सक्षम डिवाइस का उपयोग करके प्राप्त किया जाता है जिसमें ऋण आवेदन स्थापित होता है, या ऑनलाइन उधारदाताओं से जुड़ने के लिए वेबसाइट के माध्यम से प्राप्त किया जाता है।

आप इस लोन का प्रयोग चिकित्सा बिलों , उच्च-ब्याज वाले क्रेडिट कार्ड बिलों का भुगतान करने आदि के लिए ऑनलाइन ऋण एकदम सही विकल्प है।

Travel Loan

एक ऐसा ऋण है जो किसी वेकेशन घूमने-फिरने या फिर अपना देश दुनिया में घूमने का सपना पूरा करने के लिए लिया जा सकता है.

यदि आप किसी वेकेशन पर जाना चाहते हैं तो बजाज फिनसर्व यात्रा ऋण के लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है और इस लोन का प्रयोग आप हवाई टिकट बुक करने,ठहरने आदि अनेक कार्य के लिए ले सकते हैं.

Wedding loan

एक ऐसा ऋण है जो किसी फैमिली फंक्शन या शादी विवाह के कार्यों के लिए लिया जा सकता है और बजाज फिनसर्व के द्वारा इस लोन को घर बैठे लिया जा सकता है और इसका प्रयोग विवाह, बरात, खाना, फंक्शन, आदि अनेक खर्चों को निपटाने के लिए लिया जा सकता है.

Student Loan

एक ऐसा ऋण है जो हॉस्टल के खर्चों, स्कूल फीस, प्रोजेक्ट फीस आदि अनेक अध्यन कार्यों के लिए ले सकते हैं.

यदि आप एक स्टूडेंट है और आपको किसी पर्सनल जरुरतों के लिए के लिए तो आप बजाज फिनसर्व ऐप के माध्यम से स्टूडेंट लोन प्राप्त कर सकते हैं.

Laptop Loan

एक ऐसा ऋण है जिसके माध्यम से अगर आप एक स्टूडेंट है तो आप इस ऋण को अपने एजुकेशनल उद्देश्यों के लिए, या फिर आप Online cafe को चलाते हो, तो आप Bajaj Finserv कंपनी का फायदा ले सकते हैं.

यदि आप AMAZON, FLIPKART और अन्य शॉपिंग ऑनलाइन स्टोर से बजाज फिनसर्व EMI Card के माध्यम से 3000 हजार से लेकर 5 लाख रुपए तक लोन मिल सकता है.

इसका भुगतान आपको मासिक किस्तों में करना होता है.

Mobile Loan

Mobile Loan एक ऐसा ऋण है जिसके माध्यम से mobile को खरीद सकते हैं. आप AMAZON, FLIPKARTऔर अन्य शॉपिंग ऑनलाइन स्टोर से Bajaj Finserv Credit Card के माध्यम से 3000 हजार से लेकर 1 लाख रुपए तक लोन मिल सकता है. इसका भुगतान आपको मासिक किस्तों में करना होता है.

Loan लेने के लिए Documents

अगर आप लोन लेना चाहते हैं तो ऐसे में आपके पास यह डाक्यूमेंट्स होने जरूरी है अगर यह डाक्यूमेंट्स आपके पास मौजूद नहीं है तो आप लोन के लिए आवेदन नहीं कर सकते आइए जानते हैं कि आपको लोन लेने के लिए कौन कौन से डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ेगी:

S. No.Required Documents
1आधार कार्ड
2पैन कार्ड
36 महीने का बैंक स्टेटमेंट
4बैंक खाता संख्या
5मोबाइल नंबर
6एक सेल्फी
7अधिक लोन लेने पर आईटीआर स्लिप, सैलरी स्लिप इत्यादि

Loan लेने की Eligibility

लोन लेने पर बैंकों के द्वारा कुछ टर्म्स ऑफ कंडीशन निर्धारित की जाती है ताकि आवेदक के हिसाब से लोन राशि दी जा सके यदि आप लोन लेना चाहते हैं तो आप यदि नीचे दी गई एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया को फुल फील करते हैं तो आप आसानी से लोन ले सकते हैं आइए जानते हैं लोन लेने पर क्या एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया लगता है

  1. सबसे पहले तो आवेदक एक भारतीय नागरिक होना चाहिए.
  2. आवेदक की मासिक आय ₹15000 से ज्यादा होनी चाहिए.
  3. आवेदक कोई भी जॉब या फिर सेल्फ एंप्लोई होना चाहिए.
  4. आवेदक के पास एड्रेस प्रूफ मौजूद होना चाहिए
  5. आपके पास इनकम प्रूफ मौजूद होना चाहिए
  6. अधिकतम लोन लेने के लिए इनकम सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ेगी
  7. इसके अलावा आपके पास यदि आप होम लोन, एजुकेशन लोन ले रहे हैं तो ऐसे में जन्म प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता पड़ेगी.
  8. ऑनलाइन लोन लेने के लिए आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर होना चाहिए.
  9. आधार कार्ड और पैन कार्ड मौजूद होना चाहिए.
  10. यदि आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड मौजूद है तो ऐसे में भी आप लोन ले पाएंगे ऐसे में आपको कुछ प्लेटफार्म की खोज करनी होगी.
  11. लोन लेने के लिए एक स्मार्टफोन और इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता पड़ेगी.
  12. इसके अलावा आप अपने नजदीकी बैंक से भी लोन आवेदन कर सकते हैं.
  13. आपका सिबिल स्कोर अच्छा होना चाहिए

Notice: लोन लेते समय आपको बैंक और फाइनेंस कंपनी द्वारा निर्धारित टर्म्स ऑफ कंडीशन को फॉलो करना होगा और वहां पर दी गई जानकारी को पढ़कर लोन अप्लाई करना होगा.

लोन के फायदे

लोन लेने के कुछ अलग ही फायदे हैं यहां पर हमने कुछ उन फायदों के बारे में बताएं हैं जिनका लाभ आप लोन लेने पर उठा सकते हैं.

#1 सिबिल स्कोर बढ़ा सकते हैं.

अगर आप लोन लेते हैं और समय पर लोन को जमा करते हैं तो ऐसे में आपका सिबिल स्कोर बढ़ने लगता है.

अगर आपका सिबिल स्कोर 700 से ऊपर चला जाता है ऐसे में आप अपने नजदीकी किसी भी बैंक से ₹200000 तक का लोन ले सकते हैं लेकिन वहां पर कुछ अन्य टर्म्स ऑफ कंडीशन है जिनको आप को फॉलो करना होगा.

#2 क्रेडिट लिमिट बढ़ा सकते हैं

लोन लेने पर आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ जाती है, अगर आप लोन को टाइम टू टाइम जमा कर रहे हैं तो ऐसे में बैंक आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ा देता है जैसे कि यदि आपने बैंक से ₹10000 का लोन लिया है तो अगली बार आपको बैंक से ₹20000 तक का लोन आसानी से मिल जाएगा.

#3 लोन मिलने के चांस बढ़ा सकते हैं

लोन को जमा करने पर आपको लोन मिलने के चांस बढ़ जाते हैं कई सारी फाइनेंस कंपनियां आपको यह लोन ऑफर करती है कि आप हमारे यहां से लोन ले लीजिए यदि आप लोगों के लिए एलिजिबल पाए जाते हैं तो ऐसे में आप तुरंत लोन ले सकते हैं लोन मिलने के लिए सिर्फ आपको कुछ टम्स ऑफ कंडीशन को फॉलो करना होता है.

#4 किसी भी इमरजेंसी में बैंक से लोन ले सकते हैं

अगर आपको किसी इमरजेंसी में बैंक से लोन लेना है तो ऐसे में आप आसानी से लोन ले सकते हैं यदि आपने पहले से कोई लोन लिया हुआ है वहां पर लोन आपको सैलरी स्लिप और इनकम प्रूफ दिखाकर लोन लिया जा सकता है वर्तमान समय में कुछ ऑनलाइन प्लेटफॉर्म किसी भी मेडिकल इमरजेंसी में तुरंत लोन प्रदान कर देते हैं.

#5 जरूरत के समय में बिना ब्याज के लोन ले सकते हैं

जरूरत के समय में बिना ब्याज के लोन ले सकते हैं वर्तमान समय में कुछ प्लेटफार्म अपनी Pay later सर्विस देते हैं जिसके मद्देनजर आप 20 दिनों तक बिना किसी इंटरेस्ट रेट के इस लोन का फायदा उठा सकते हैं और

यहां पर आपको लोन राशि ₹20000 तक आसानी से मिल जाती है लोन लेने के लिए आप एचडीएफसी बैंक, एसबीआई बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, पेटीएम बैंक इत्यादि अन्य का सहारा ले सकते हैं.

#6 प्री-अप्रूव्ड लोन का फायदा उठा सकते हैं.

यदि आपने पहले से लोन लिया है और आपका सिबिल स्कोर अच्छा है तो ऐसे में कुछ बैंक जैसे एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक एसबीआई बैंक इत्यादि अन्य अपने प्री-अप्रूव्ड ऑफर देती है

यदि आपको आवश्यकता है तो आप इस लोन का फायदा आसानी से ले सकते हैं

लोन लेने के लिए सिर्फ आपको कुछ डाक्यूमेंट्स को अपने नजदीकी बैंक में जमा करना होता है या फिर आप मोबाइल एप्लीकेशन पर मौजूद पर्सनल लोन सेक्शन से भी लोन आवेदन कर सकते हैं.

लोन अप्लाई करने से पहले किन चीज़ों का ध्यान रखना आवश्यक होता है?

अगर आप लोन अप्लाई कर रहे हैं तो ऐसे में आपको इन बातों का ध्यान रखना बेहद आवश्यक है.

  • सबसे पहले यह निर्धारित कीजिए कि आपको कितना लोन राशि लेना है.
  • अब उन प्लेटफार्म की तलाश करें जो आपको कम इंटरेस्ट रेट पर लोन दे रहे हैं.
  • इसके बाद यह डिसीजन ले कि आप कितने समय के लिए लोन लेना चाहते हैं.
  • आप बस आपको उन सभी प्लेटफार्म में आपस में यह चेक करना है कि कौन सा प्लेटफार्म आपको कम इंटरेस्ट रेट पर लोन दे रहा है.
  • अगर आप किसी ऑनलाइन लोन एप्लीकेशन से लोन ले रहे हैं तो ऐसे में आपको यह जरूर ध्यान रखें कि वह प्लेटफार्म रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और एनबीएफसी द्वारा अपलोड हो.
  • लोन को समय पर जमा करें ताकि किसी प्रकार का चार्ज ना लगे.

उपरोक्त दी गई बातों का यदि आप ध्यान रखते हैं तो आप लोन लेते समय कभी भी किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करेंगे इसलिए आप लोन अप्लाई करते समय उस प्लेटफार्म की टर्म्स ऑफ कंडीशन हिडेन चार्ज प्रोसेसिंग फीस लेट फीस इत्यादि अन्य के बारे में भी जांच लें.

4 C’s of Credit formula क्या है और इसे जानना क्यूँ जरुरी होता हैं?

4 C एक ऐसा फार्मूला है जिसे हर कोई बैंक फाइनेंस कंपनी नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी लोन देने से पहले इस्तेमाल करती है

यहां पर हमने आपको उन सभी कारको के बारे में बताया है जिससे लोन लेते समय हर कोई लोन प्रोवाइडर इस्तेमाल करता है आइए जानते हैं कि 4c फार्मूला क्या है.

1. Character

सबसे पहले आता है Character, जिसे हिंदी में “चरित्र” कहते हैं अगर आप लोग ले रहे हैं तो ऐसे में लोन प्रोवाइड करने वाली फाइनेंस कंपनी आवेदक का सिबिल स्कोर क्रेडिट हिस्ट्री बैंक स्टेटमेंट क्या कोई पहले से लोन लिया है

लोन को जमा करने में कितना समय लगाया है इत्यादि अन्य वगैरह वगैरह जानकारी चेक करता है

इन सभी जानकारी को चेक करने के बाद ही लोन प्रोवाइडर यह अनुमान लगा पाता है कि आवेदक को लोन मिलना चाहिए या फिर नहीं.

2. Capacity

दूसरे नंबर पर आता है Capacity, जिसे हिंदी में “क्षमता” कहते हैं. इसका मतलब हुआ जब आप लोन लेते हैं तो ऐसे मेल लोन प्रोवाइड करने वाली कंपनी यह देखती है कि आपके बिजनेस की Ability कितनी है

जिससे कि आप लोन अमाउंट को चुका सकते हैं या फिर नहीं.

बैंक लोन देने से पहले इस चीज को भी जरूर चेक करता है.

इसके अलावा यदि बैंक किसी नए Business को Loan देती है तब ये उनके लिए सबसे ज्यादा Risky होता है.

3. Capital

तीसरे नंबर पर आता है Capital. जिसे हिंदी में मूलधन, पूँजी कहते हैं यह आमतौर पर आपके बिजनेस का capital assets होता है .

कैपिटल ऐसेट के अंतर्गत कंपनी के समान जैसे की मशीनर, प्रोडक्ट्स इत्यादि अन्य आते हैं.

इसके अलावा Product Inventory, Store और Restaurant Fixtures इत्यादि अन्य आती है.

बैंक लोन देने से पहले इस बात का हमेशा ध्यान रखती है कि जो जिस कंपनी को लोन दिया जा रहा है उसका कैपिटल कैसा है.

अगर Loan चुकाया नहीं गया तब उन्हें इन Assets को बेचना होता है, वही यदि ये Loan Amount को पूर्ण न कर सके तब इसमें Banks का ही Loss होता है.

4. Collateral

चौथे नंबर पर आता है Collateral. जिसे हिंदी में गिरवी रखना कहते हैं अगर आप लोन ले रहे हैं तो ऐसे में लोन प्रोवाइडर यह भी देखता है कि आप किस बेस पर लोन आवेदन कर रहे हैं

यदि आप बिजनेस ओनर है तो ऐसे में आप अपने बिजनेस के Cash और Assets को सिक्योरिटी के तौर पर रखना होता है

इसे बैंक अपने surety को बढ़ाता है चाहे फिर आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा हो आपकी लगातार इनकम बढ़ रही है यह भी बैंक चेक करता है.

FAQ – लोन से संभंधित प्रशन उत्तर

लोन कैसे ले?

लोन लेने के लिए आप अपने नजदीकी बैंक में जाएं और वहां पर लोन आवेदन करने के लिए एप्लीकेशन फॉर्म ले अब उस एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी सही-सही भरे और फिर अपने डाक्यूमेंट्स जैसे आधार कार्ड पैन कार्ड बैंक स्टेटमेंट सैलरी स्लिप आइटीआर स्लिप इत्यादि अन्य को अटेस्टेड करके बैंक में सबमिट कर दे. अब लोन मिलने तक इंतजार करें जैसे ही आपका लोन अप्रूवल हो जाता है तो आपको आसानी से लोन मिल जाता है.

बैंक से लोन कैसे लेते हैं?

बैंक से लोन लेने के लिए आपको बैंक में जाना होगा और वहां पर अपने डॉक्यूमेंट को जमा करवाकर एप्लीकेशन फॉर्म को जमा करके लोन ले सकते हैं.

लोन कैसे मिलता है?

लोन आवेदक के सिविल स्कोर,क्रेडिट हिस्ट्री और अन्य जरूरी दस्तावेज चेक करने के बाद दिया जाता है. वर्तमान समय में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया,आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक इत्यादि अन्य आवेदक की जरूरत के अनुसार लोन प्रदान करा देते हैं.

पर्सनल लोन क्या होता है?

पर्सनल लोन वह होता है जिसका प्रयोग आप अपनी दैनिक जीवन की जरूरतो को पूरा करने के लिए लेते हैं. इसे ही पर्सनल लोन कहते हैं. आमतौर पर इस लोन को Personal Emergencies, Travel, Marriage, Car or Bike Loan EMIs आदि अन्य कामों के लिए लिया जाता है.

लोन लेने के लिए कितनी उम्र होनी चाहिए

लोन लेने के लिए 21 वर्ष से अधिक उम्र होनी चाहिए और उसके पास इनकम प्रूफ आधार कार्ड पैन कार्ड इत्यादि अन्य जरूरी दस्तावेज भी होने चाहिए.

ऑनलाइन लोन कैसे लें?

ऑनलाइन लोन लेने के लिए गूगल प्ले स्टोर पर जाए और वहां पर मौजूद Rbi Registered laon Application को डाउनलोड करें. इसके बाद आधार कार्ड की केवाईसी कंप्लीट करें और अन्य डोकोमेंट को सम्मिट करके लोन प्राप्त कर ले.

लोन लेने के लिए क्या करना होता है?

लोन लेने के लिए आपको अपने नजदीकी बैंक में जाना होता है और वहां पर अपने सभी डॉक्यूमेंट को जमा करना होता है यदि आप एलिजिबल होते हैं तो बैंक आपको लोन दे देता है यदि आप एलिजिबल नहीं होते तो ऐसे में आप दूसरा तरीका अपना सकते हैं जिसमें कि आप गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद आरबीआई रजिस्टर्ड लोन एप्लीकेशन पर रजिस्ट्रेशन करके अपनी कुछ जानकारी शेयर करके लोन ले सकते हैं.

निष्कर्ष – What is A Loan

यहां पर हमने इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है कि What is loan, loan types, loan kaise le, loan kaise milega इत्यादि अन्य के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी है.

यदि आपको अभी भी लोन किया है लोन कैसे लेते हैं इसके बारे में किसी प्रकार का डाउट होता है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय दे सकते हैं हमें आपके कमेंट का इंतजार रहेगा ताकि हम आपको बेहतर से बेहतर जानकारी दे सके.

इसके अलावा आप हमें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फॉलो कर सकते हैं ताकि आप वहां पर भी हमसे सवाल पूछ सके.

उम्मीद करता हूं लोन कैसे ले, लोन क्या होता है, लोन कैसे मिलेगा, लोन कितने तरह का होता है, लोन कैसे बनता है, लोन लेने के लिए क्या करना होता है, इत्यादि अन्य जानकारी आपको अच्छी लगी होगी अपनी राय आप जरूर कमेंट बॉक्स में दें!

Follow On Google News 👉CLICK HERE
Follow On YouTube 👉CLICK HERE
Join On Telegram (New Update)🔥CLICK HERE
Follow On Facebook 👉CLICK HERE
Web Portal (Loanpaye) 👉CLICK HERE

Disclaimer: Loanpaye.com पर किसी भी तरह का लोन नहीं दिया जाता, यहां पर सिर्फ आपको लोन के बारे में जानकारी दी जाती है ताकि आप जरूरत के समय में आसानी से लोन ले सके. यदि आप लोन आवेदन कर रहे हैं तो सोच समझकर अपने रिस्क पर करें. किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी के लिए Loanpaye.com जिम्मेदार नहीं होगा. अपनी निजी जानकारी वेबसाइट पर शेयर ना करें धन्यवाद!

Leave a Comment